Atmanirbhar Aarthik Package | आत्मनिर्भर भारत अभियान, कोरोना राहत पैकेज

Share:
Atmanirbhar Aarthik Package | आत्मनिर्भर भारत अभियान, कोरोना राहत पैकेज

आत्मनिर्भर भारत आर्थिक पैकेज (Atma Nnirbhar Bharat Aarthik Package)

Atma Nirbhar Aarthik Package - हेल्लो दोस्तों जैसा की आप जानते है कोरोंना वायरस के कारन देश भर में लॉकडाउन चल रहा है। इसी को देखते हुए आज दिनांक 12 मई 2020 को "आत्म निर्भर आर्थिक पैकेज" की घोसना किया है जिससे देश में रहने वाले सभी लोगो को लाभ मिलेगा। 

"आत्मनिर्भर आर्थिक पैकेज (Atma Nirbhar Aarthik Package)" कल दिनांक 13 मई 2020 से वित्त मंत्री जी के द्वारा सभी जानकरी दी जायेगी।  


देश को संबोधित करते हुए, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोनो वायरस प्रकोप से निपटने और भारत को "आत्मनिर्भर भारत" बनाने के लिए घोषित कुल आर्थिक पैकेज देश के GDP का 10% है जो 20 लाख करोड़ का है।


उन्होंने कहा, यह "आत्मनिर्भर आर्थिक पैकेज" में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा, उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा अब तक की गई घोषणाएं, RBI के निर्णय और आज के पैकेज 20 लाख करोड़ रुपये या भारत की जीडीपी का 10% है।


प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी ने कहा लॉकडाउन 4 में कुछ नए नियम के अनुसार चलाया जाएगा जो 18 मई 2020  लॉकडाउन 3 खत्म होने से पहले सरकार द्वारा इनफार्मेशन सभी को देदी जायेगी। 





आत्मनिर्भर भारत आर्थिक पैकेज का उदेश्य 

आत्मनिर्भर भारत आर्थिक पैकेज को घोषणा करते हुए प्रधान मंत्री जी ने कहा है इस राहत पैकेज से देश में 135 करोड़ लोगो को लाभ मिलेगा।  और यह पैकेज देश में सभी को Covid-19 से लड़ने में सहायक होगा साथ ही साथ लोग इस महामारी के समय में अपना योगदान दे सके। 

योजना
आत्मनिर्भर आर्थिक पैकेज
सरकार
केंद्र सरकार
लाभार्थी
सभी देश वाशी और देश के सभी वर्क सेक्टर
पैकेज तिथि
12 मई 2020
पैकेज की राशी
20 लाख करोड़ (देश के GDP का 10%)
उदेश्य
स्टार्ट इकॉनमी एक्टिविटी


आत्मनिर्भर भारत अभियान

प्रधान मंत्री जी ने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी इस विशेष आर्थिक पैकेज के विवरण की घोषणा करेंगी। प्रधान मंत्री ने कहा कि पैकेज land, labour, liquidity and laws पर भी ध्यान केंद्रित करेगा। यह कुटीर उद्योग, MSMEs, मजदूरों, मध्यम वर्ग, उद्योगों सहित विभिन्न वर्गों को पूरा करेगा। 

देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए कई साहसिक सुधारों की आवश्यकता है, ताकि भविष्य में COVID जैसे संकट के प्रभाव को नकारा जा सके। इन सुधारों में कृषि के लिए आपूर्ति श्रृंखला सुधार, तर्कसंगत कर प्रणाली, सरल और स्पष्ट कानून, सक्षम मानव संसाधन और एक मजबूत वित्तीय प्रणाली शामिल हैं। ये सुधार व्यापार को बढ़ावा देंगे, निवेश को आकर्षित करेंगे और मेक इन इंडिया को और मजबूत करेंगे।

साथ ही साथ प्रधान मंत्री जी ने बताया यह पैकेज के 5 मुख्य स्तम्भ होगे:
  1. इकॉनमी (अर्थव्यवस्था)
  2. Infrastructure
  3. System
  4. Demography (जनसांख्यिकी)
  5. Demand and Supply

आत्मनिर्भर भारत आर्थिक पैकेज का लाभ 

मंगलवार दिनांक 12 मई 2020 को "आत्मनिर्भर आर्थिक पैकेज"  को बताते हुए बोला ये पैकेज देश में रहने वाले लोगो को लाभ मिलेगा जो इस प्रकार है:
  • देश में MSME सेक्टर को लाभ मिलेगा 
  • देश के छोटे व्यापारी को इसका लाभ मिलेगा 
  • देश के सभी मजदुर, किसान ,और माध्कोयम वर्ग को इसका लाभ मिलेगा 
  • इस पैकेज से देश में सभी सेक्टर को लाभ मिलेगा 
  • देश का अभी तक का सबसे बड़ा राहत पैकेज 20 करोड़ का है जो देश के GDP का 10% है

No comments